Vidya Balan करने लगी थीं अपनी ही चीजों से नफरत ,परिवार को सताने लगी थी चिंता


नई दिल्ली। बॉलीवुड में विद्या बालन आज के समय में एक बड़ा नाम है। लेकिन इस मुकाम को हासिल करने के लिए एक्ट्रेस ने जीतोड़ मेहनत की थी। फिर चाहे छोटे पर्दे की बात हो या फिर बड़े पर्दे की, उन्होंने अपनी मेहनत के दम से ही लोगों के बीच एक अलग पहचान बनाई। लेकिन एक समय ऐसा भी था जब इस एक्ट्रेस को अपने फिगर के चलते आलोचनाओं का शिकार होना पड़ता था। उनके बढ़ते मोटापे को देख उन्हें फिल्म मिलना तक बंद हो गई थी, जिसके चलते उन्हें धीरे-धीरे अपने ही शरीर से नफरत हो होने लगी थी। एक इटरव्यू के दौरान एक्ट्रेस ने इस बात का खुलासा किया था।

‘मुझे अपने शरीर से नफरत हो गई थी’
एक्ट्रेस ने बताया कि, ‘जब मै छोटी थी तो उस समय काफी गोलमटोल होने के चलते लोग मुझे क्यूट कहते थे। लेकिन बड़े होने के बाद भी मेरा शरीर लोगमटोल ही रहा। तब लोग मुझे क्यूट नही बल्कि मोटी कहने लगे। मेरा चेहरा अच्छा है पर मेरा वज़न कम होने का नाम ही नही ले रहा था। यहां तक कि फिल्मों में आने के बाद मेरी फिल्में चलना तक बंद हो गईं। जिससे मुझे कई तरह की परेशानियों को झेलना पड़ा।

परिवार को होने लगी थी फिक्र’
‘जब मैं 17 साल की हुई तो मुझे वजन कम करने के तरीके बताए गए। उन तरीकों को अपनाने से मेरी नींद जाने लगी और लगातार उल्टियां शुरू हो गई। परिवार के लोग चिंता करने लगे कि मैं किस बीमारी के दलदल में फंस गई हूं। जब मुझे डॉक्टर के पास ले जाया गया तब उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। लेकिन वजन कम नही हुआ।

‘डायरेक्टर ने वज़न कम करने के लिए कहा’
‘डर्टी पिक्चर’ में काम करने के बाद मुझे पता चला कि वज़न ज्यादा होने के बाद भी मैं सेक्सी लग सकती हूं। और जैसी भी मैं हूं लोगों को मुझे वैसे ही अपनाना होगा। आज के समय में मैं सब कुछ भुलाकर खुले मन से खाती हूं। एक्सरसाइज़ पर भी ध्यान नही देती। और इस वजह से मेरा हारमोन्स बैलेंस रहता है। मेरा दो किलो वज़न कम हुआ है’।





Source link

Posts You May Love to Read !!

Leave a Comment