नई दिल्ली | सुशांत सिंह राजपूत मामले (Sushant Singh Rajput case) में एनसीबी ड्रग एंगल (Drug angle) पर तेजी से जांच कर रही है। केस की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty), शौविक चक्रवर्ती (Showik Chakraborty) और सुशांत के स्टाफ से पूछताछ में अभी तक जो बाते सामने आई हैं उसके आधार पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने पावना वाले फार्महाउस में छापेमारी (NCB raid at sushant farmhouse) की है। रिया चक्रवर्ती अभी मुंबई की भायखला जेल में बंद हैं। उन्हें वहां 22 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में रखा जाएगा। इसी बीच सुशांत के पावना वाले फार्महाउस से हुक्का पॉट्स, दवाइयां, ऐशट्रे और ऐसी कई चीजें बरामद की गई हैं। गौरतलब हो कि रिया चक्रवर्ती ने एनसीबी को बताया था कि सुशांत के फार्महाउस पर ड्रग पार्टीज (Drug parties) हुआ करती थी। जिसमें कई बड़े स्टार्स भी शामिल होते थे।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सुशांत सिंह राजपूत अपने फार्महाउस का हर महीने का खर्चा 2.5 लाख के आसपास चुकाते थे। इस फार्महाउस में सुशांत के साथ उनके फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी, हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, दीपेश सावंत, रिया चक्रवर्ती और उनका भाई शौविक चक्रवर्ती भी खूब पार्टियां किया करते थे। इन पार्टीज में बॉलीवुड सेलेब्स भी शामिल होते थे। हालांकि सुशांत के पुराने स्टाफ मेंबर्स हमेशा अपने बयान में यही बताते आए हैं कि उन्होंने कभी दिवंगत एक्टर को ड्रग्स जैसा कुछ लेते नहीं देखा।

याद हो कि रिया चक्रवर्ती ने एनसीबी (NCB) को बताया था कि एक टॉप फिल्ममेकर (Top filmmaker) के कारण सुशांत को ड्रग की लत लग गई थी। रिया ने सुशांत का ड्रग लेने की आदत का जिम्मेदार एक बड़े फिल्मेमेकर को बताया था। रिया ने एनसीबी के सामने दावा किया था कि सुशांत उनके आने से पहले से ही ड्रग लिया करते थे। इस बात की जानकारी खुद सुशांत ने उन्हें दी थी। वहीं रिया ने ये भी कहा था कि वो फार्महाउस में होने वाली ड्रग पार्टीज में कभी शामिल नहीं हुई लेकिन बड़े टॉप एक्टर्स वहां आते थे। गलत तरीके से ड्रग की सप्लाई की जाती थी। रिया के इन दावों के बाद ही एनसीबी ने सुशांत के फार्महाउस पर छापा मारा है। बहराल सुशांत को एक प्लान के तहत ड्रग दिया गया या वो खुद लेते थे इसपर जांच एजेंसिया सच जानने की कोशिश में लगी हुई हैं।





Source link

Posts You May Love to Read !!

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *