मुंबई। आईपीएल फ्रेंचाइजी किंग्स इलेवन पंजाब टीम की सह-मालकिन प्रीति जिंटा ( Preity Zinta ) लीग के मौजूदा 13वें सीजन में क्रिकेट नियमों पर नाराजगी जाहिर की है। किंग्स इलेवन पंजाब को 13वें सीजन के दूसरे मैच में रविवार को दिल्ली कैपिटल्स के हाथों सुपर ओवर में हार का सामना करना पड़ा। हालांकि मैच का आखिरी समय विवादों से भरा रहा।

 

मैच के अंतिम क्षणों में अंपायरिंग को लेकर विवाद हो गया और इस पर पंजाब टीम की मालकिन प्रीति जिंटा का गुस्सा फूट पड़ा। 158 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही पंजाब की पारी के 19वें ओवर के दौरान मयंक अग्रवाल और क्रिस जोर्डन बल्लेबाजी कर रहे थे। इसी ओवर में जोर्डन द्वारा लिए गए रन को शॉर्ट रन दे दिया लेकिन रिप्ले में देखा गया तो जोर्डन का बल्ला पूरी तरह से क्रीज के पार था।

इस पर प्रीति ने ट्वीटर पर भड़ास निकाली और उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘मैंने इस महामारी के दौरान पूरे जोश के साथ यहां तक का सफर किया। छह दिन क्वारंटीन में रही और पांच कोविड टेस्ट कराए वो भी मुस्कुराते हुए, लेकिन वो एक शॉर्ट रन ने मुझे काफी दर्द दिया। अगर तकनीक का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता तो इसका फायदा क्या है? यह समय है जब बीसीसीआई को नए नियम लाने चाहिए। यह हर साल नहीं हो सकता।’ प्रीति ने एक और ट्वीट में लिखा, ‘मैं हार-जीत को विनम्रता से स्वीकार करने में विश्वास रखती हूं और खेल भावना को भी मानती हूं, लेकिन खेल को सुधार करने के लिए नीति में बदलाव करने की मांग करना भी जरूरी है। जो हुआ वो हो चुका और आगे बढ़ना जरूरी है। इसलिए मैं आगे बढ़ रही हूं और हमेशा की तरह सकारात्मक हूं।’





Source link

Posts You May Love to Read !!

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *