नई दिल्ली | सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput case) में एक और नया मोड़ सामने आया है। तीन जांच एजेंसियां नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Narcotics Control Bureau), सीबीआई (CBI) और ईडी इस मामले में पड़ताल कर रही हैं। एनसीबी (NCB) को अब तक ड्रग एंगल में कई बड़े नाम बड़े मिल चुके हैं। वहीं सीबीआई भी इस केस में अगल हफ्ते फाइनल रिपोर्ट पेश कर सकती है। फिलहाल सुशांत सिंह राजपूत का लिखा हुआ एक नोट सामने (Sushant handwritten note) आया है जिसमें दिवंगत एक्टर ने कई बातों का जिक्र किया है। सुशांत ने उसमें स्मोकिंग छोड़ने की बात से लेकर एक्ट्रेस कृति सेनन (Kriti Sanon)का नाम भी मेंशन किया है। सुशांत का ये नोट उनके फार्महाउस से बरामद किया गया है। अब जांच एजेंसियां कई और चीजें खगालने में लगी हुई हैं।

कुछ दिन पहले सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती का एक स्मोकिंग वीडियो सामने आया था। जिससे हर कोई हैरान रह गया था। अब इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत द्वारा साल 2018 का लिखा हुआ नोट मिला है। सुशांत ने अपने हाथ से इस नोट में डेली रूटीन लिखा है। उन्होंने लिखा है कि वो सुबह ढाई बजे उठना चाहते हैं, चाय पीना चाहते हैं। उसके बाद नहाकर टेनिस खेलना चाहते हैं। इसके साथ ही वो स्मोकिंग को भी छोड़ना चाहते हैं (Sushant smoking) और कृति के साथ वक्त बिताना चाहते हैं। यहां पर शायद एक्ट्रेस कृति सेनन की बात की गई है। ये नोट उस वक्त का है जब सुशांत को केदारनाथ (Kedarnath) ऑफर हुई थी। उन्होंने अपने नोट में जिक्र किया है कि वो केदारनाथ की स्क्रिप्ट पढ़ना चाहते हैं।

सुशांत ने अपनी बहन प्रियंका और महेश के साथ घूमने की भी जिक्र किया है। इसके अलावा उन्होंने खुशी, फिजिक्स और सपनों की बात की है। सुशांत ने अपने नोट्स में आध्यात्मिक बातों का भी खूब जिक्र किया है। उन्होंने नोट में आनंद, साहस, अनुभव, विश्लेषण, प्रतिभा और पवित्रता का इस्तेमाल किया है। इसके अलावा सुशांत योगा, तपस्या, सोमरस और कैलाश जैसी बातों का भी जिक्र कर रहे हैं। नोट में सुशांत ने एक मोटिवेट लाइन भी लिखी है- जो छोटी छोटी हरकतों से बहुत बताने की तमीज और साहस रखते हैं, वही कल का निर्माण करेंगे। इसके साथ ही सुशांत ने कैलाश यात्रा (Kailash Yatra) के बारे में लिखा है। सुशांत के नोट्स में इन सभी बातों से इतना तो साफ होता है कि सुशांत आध्यात्म को लेकर काफी रूचि रखते थे। वो अपने जीवन में पॉजिटिविटी को शामिल करना चाहते थे।





Source link

Posts You May Love to Read !!

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *