नई दिल्ली | सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद से उनकी बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) लगातार सोशल मीडिया (Social Media) पर एक्टिव रही हैं। उन्होंने कई कैंपेन शुरू कर सुशांत के फैंस को इनसे कनेक्ट किया। श्वेता लगातार अपने दिवंगत भाई सुशांत के लिए न्याय की मांग करती रही हैं। साथ ही उनके अधूरे सपने को पूरा करने में भी लगी हुई हैं। लेकिन अब उन्होंने सोशल मीडिया से दूरी बनाने फैसला लिया है। हाल ही में उन्होंने सुशांत को लेकर एक इमोशनल नोट (Shweta emotional post) लिखा। उन्होंने बताया कि तीन महीने बीत जाने के बाद भी वो इस दर्द से नहीं निकल पा रही हैं कि अब सुशांत नहीं रहे। श्वेता ने बताया कि वो उन्हें किस कदर मिस करती हैं। हालांकि इस दर्द से निकलने के लिए उन्होंने कुछ दिन ध्यान करने का फैसला लिया है।

 

श्वेता सिंह कीर्ति ने अपने इंस्टाग्राम पर (Shweta Singh Kirti Instagram) सुशांत सिंह राजपूत के साथ एक प्यारी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- आप चाहे कितना भी स्ट्रॉन्ग रहने की कोशिश करें लेकिन एक समय पर आपका दर्द बढ़ जाता है कि भाई तो असल में अब हैं ही नहीं। अब उन्हें कभी छू नहीं पाएंगे, हंसते हुए देख नहीं पाएंगे और उन्हें जोक्स मारते हुए नहीं सुन पाएंगे। मैं सोचती हूं कि इस दर्द को भरने में ना जाने कितना समय लगेगा। मैंने 10 दिन के लिए सोशल मीडिया से दूरी बनाने का फैसला लिया (Sushant sister break) है ताकि मैं गहन ध्यान और प्रार्थना कर सकूं। इस दर्द से निकलने की जरूरत है।

श्वेता सिहं कीर्ति के इस पोस्ट पर सुशांत के फैंस खूब रिएक्ट कर रहे हैं। एक फैन ने लिखा- आप स्ट्रॉन्ग रहो दी, हम हमेशा आपके साथ हैं। आपके इस फैसले का सम्मान करते हैं। बता दें कि सुशांत की सभी बहनों में श्वेता सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा एक्टिव हैं। वो यूएस में रहती हैं लेकिन उन्होंने कुछ महीनों में सुशांत के लिए कई सारे इनीशिएटिव करवाएं हैं। सुशांत के नाम पर जरूरतमंदो को खाना खिलाना हो या फिर उनका 1000 पेड़ लगाने का सपना पूरा करना हो। श्वेता ने सुशांत के लिए हर वो मुमकिन कोशिश की है जिससे वो उन्हें यादों में जिंदा रख सकें। वहीं सुशांत केस में तीन जांच एजेंसियां अपनी जांच-पड़ताल में लगी हुई हैं।





Source link

Posts You May Love to Read !!

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *