बॉलीवुड में ड्रग के गढ़ को उखाड़ने में मदद कर सकता है शौविक : एनसीबी


दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स के मामले को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो(एनसीबी) ने दावा किया है कि मुख्य आरोपी शौविक चक्रवर्ती ने कई नामों का खुलासा किया है जो बॉलीवुड और मुंबई में ड्रग्स के गढ़ तक पहुंचने और उसे खत्म करने में मदद कर सकता है। एनसीबी ने शनिवार को रिमांड याचिका में यह बात कही। सुशांत की प्रेमिका रिया चक्रवर्ती की संभावित गिरफ्तारी की ओर इशारा करते हुए एनसीबी ने रिमांड याचिका दायर की। इसमें एनसीबी ने पूछताछ के लिए शौविक की पांच दिनों की हिरासत की मांग करते हुए कहा कि उसे अपनी बहन (रिया) और एक अन्य व्यक्ति दीपेश सावंत के सामने पूछताछ का सामना करना होगा।

शौविक को 4 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। अब एनसीबी उससे इस आपराधिक साजिश में उसकी भूमिका, वित्तीय मामले आदि को लेकर पूछताछ करेगी। सीडीआर रिकॉर्डस के आधार पर, व्हाट्सएप चैट और नशीले पदार्थों की तस्करी में प्रारंभिक पूछताछ को लेकर एनसीबी ने कहा है कि वह कुछ लोगों का पता लगाना और सत्यापित करना चाहती है जो अभी भी फरार हैं और उन्हें गिरफ्तार किया जाना है।

मुंबई में अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत के समक्ष दायर रिमांड याचिका में एनसीबी ने कहा कि शोविक ड्रग डिलेवरी करने वालों की मदद करता था, प्रतिबंधित ड्रग्स की नगद, क्रेडिट कार्ड के जरिए डिलीवरी करने और इनके लिए पेमेंट गेटवे की तरह काम करता है, जो सार्वजनिक सुरक्षा और स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा हैं।

shauvik chakraborty

इसके साथ ही सह-आरोपी सैमुअल मिरांडा को भी 9 सितंबर तक के लिए एनसीबी की हिरासत में भेज दिया गया है। एनसीबी के उप निदेशक एम.ए. जैन ने मीडिया के लोगों को जो बताया उसमें एक संभावित अंतर्राष्ट्रीय ड्रग रैकेट का इशारा मिलता है। इस मामले में शौविक की भागीदारी 28 अगस्त को एनसीबी मुंबई और नई दिल्ली की टीमों द्वारा अब्बास आर.लखानी और कर्ण वी.अरोरा को पुराने कुर्ला और चंदीवली, पवई से ड्रग्स बरामद करने के बाद सामने आई थी।

You Must Read This :  काला हिरण शिकार मामले में फंसे Salman Khanके लिए 'बिग बॉस 14' के निर्माता हुए परेशान, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

इन्होंने जैड विलातरा की भागीदारी का खुलासा किया, जहां से बड़ी मात्रा में विदेशी मुद्रा बरामद किए गए हैं। विलातरा को 2 सितंबर को गिरफ्तार किया गया और अदालत ने उसे 7 दिनों के लिए हिरासत में भेज दिया। उसने पूछताछ के दौरान खरीदार अब्देल बासित परिहार के नाम का खुलासा किया। परिहार ने बताया कि उसने शौविक के कहने पर इन लोगों से ड्रग्स खरीदा था। इस तरह मामला खुला और फिर शौविक की गिरफ्तारी हुई।





Source link

Posts You May Love to Read !!

Leave a Comment