बॉलीवुड अभिनेत्री पायल घोष (Payal Ghosh) ने फिल्ममेकर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) पर यौन शोषण का आरोप लगाया है। एक टीवी चैनल पर आपबीती की जानकारी देने के बाद पायल ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) और पीएम मोदी को टैग करते हुए अनुराग के खिलाफ एक्शन लेने की गुहार लगाई है। पायल के इस ट्वीट पर महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा ने शर्मा ने संज्ञान लिया है। उन्होंने पायल को एक मेल आईडी देते हुए विस्तृत शिकायत पत्र भेजने की अपील की है।

पायल घोष का आरोप
अभिनेत्री पायल घोष ने अनुराग कश्यप पर जबरन संबंध बनाने का आरोप लगाते हुए लिखा- अनुराग ने जबरदस्ती की और हिंसक बर्ताव किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कृपया इस मामले में कार्रवाई करें। इस बात का पता चलने दें कि इस क्रिएटिव बंदे के पीछे एक राक्षस छुपा हुआ है। मुझे पता है कि यह नुकसान पहुंचा सकता है और मेरी सुरक्षा ख़तरे में हैं। कृपया मदद करें।

महिला आयोग ने लिया संज्ञान
पायल को इस आरोप पर महिला आयोग ने संज्ञान लिया। सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाली महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने पायल के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा- आप मुझे एक डिटेल कप्लेंट भेजिए। इसके अलावा ने महिला आयोग को टैग करते हुए कहा इस विषय को संज्ञान लेने का कहा।

बढ़ सकती है अनुराग की मुश्किले
इस मामले में महिला आयोग का एक्टिव होना अनुराग कश्यप की मुसीबत बढ़ा सकता है। पायल तो लगातार मीडिया के सामने आकर पूरा प्रकरण बता रही हैं, वहीं अनुराग सोशल मीडिया के जरिए सभी आरोपों को बेबुनियाद बता रहे हैं। लेकिन अब जब ये मामला महिला आयोग के भी संज्ञान में है, ऐसे में इस केस की जांच भी विश्वसनीय होगी और इसके नतीजे भी जल्दी देखने को मिलेंगे।

अनुराग कश्यप की प्रतिक्रिया
इस मामले में अनुराग कश्यप की भी प्रतिक्रिया भी सामने आई है। उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट करके इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने लिखा-क्या बात है, इतना समय ले लिया मुझे चुप करवाने की कोशिश में। चलो कोई नहीं। मुझे चुप कराते कराते इतना झूठ बोल गए कि औरत होते हुए दूसरी औरतों को भी संग घसीट लिया। थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम। बस यही कहूँगा की जो भी आरोप हैं आपके सब बेबुनियाद हैं। इसके अलावा अन्य ट्वीट में इन आरोपों को साजिश बताया है।

payal ghosh





Source link

Posts You May Love to Read !!

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *