नई दिल्ली। ‘दम लगा के हईशा’ से बॉलीवुड में दमदार एंट्री लेने वाली अभिनेत्री ‘भूमि पेडनेकर’ इंडस्ट्री में तेजी से उभरती अभिनेत्रियों में से एक हैं। जहां सभी अभिनेत्रियां अपनी जीरो फिगर, ग्लैमरस के साथ इंडस्ट्री में कदम रखती हैं। वहीं भूमि ने अपने मोटापे और सिंपल लुक के साथ बॉलीवुड में कदम रखा था। जिससे उन्होंने खूबसूरती की असली परिभाषा से सबको अवगत कराया। भूमि सोशल मीडिया पर बहुत एक्टित रहती हैं। लॉकडाउन के दौरान भी वह अपने फैंस को एंटरटेन करना बिल्कुल नहीं भूली। वहीं आज उन्होंने अपने फैंस संग अपनी रियल लाइफ से जुड़ा एक सीक्रेट शेयर किया है। जिसमें उन्होंने अपने सरनेम यानी कि उपनाम के बारें में बताया है।

 

मुंबई में तेजी से फैलते कोरोनावायरस के चलते कुछ जगहों पर शूटिंग अभी शुरू नहीं हुई है। यही देखते हुए इन दिनों भूमि पेडनेकर अपने परिवार संग समय बीता रही हैं। वह इन दिनों गोवा में है। जहां उनका पुश्तैनी घर है। आज सवेरे ही भूमि ने वहां से कुछ तस्वीरें पोस्ट की है। इन तस्वीरों में उन्होंने बताया कि ‘उनके गांव का नाम पेडणे है। जहां पर उनकी कुलदेवी का मंदिर है। मंदिर परिसर में ही उनका पुश्तैनी घर भी है।’ कुलदेवी के दर्शन करने पहुंची भूमि ने तस्वीरों को शेयर करते हुए बताया कि “उनके गांव में स्थित तीर्थस्थल को ‘पेडणे’ कहा जाता है। इस मंदिर को तीन मंदिरों के साथ जोड़कर बनाया गया है। जिसमें माउली देवी मंदिर, भगवती देवी मंदिर और रवाल नाथ मंदिर हैं।”

अभिनेत्री ने पोस्ट में मंदिरों के इतिहास के बारें में बताया कि ‘यह मंदिर 300 से 400 साल पुराने हैं। 1902 में रावल नाथ मंदिरों की किताबों में पेडणेकरों के बारें में जिक्र किया गया है। मंदिर में स्वस्थ को ठीक रखने वाली पानी की औषधियों की धाराओं से घिरा हुआ है। जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करती है।’ भूमि ने बताया कि ‘वह जब भी यहां दर्शन करने आती हैं उन्हें हमेशा ही बहुत कुछ सीखने को मिलता है। वह इसके लिए वंशावली की हमेशा आभारी रहेंगी।’ सोशल मीडिया पर भूमि पेडनेकर की यह पोस्ट काफी पसंद की जा रही है। अभिनेत्री द्वारा दी गई जानकारियों के बारें में जान कर उनके फैंस काफी खुश हैं।





Source link

Posts You May Love to Read !!

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *